क्षमता निर्माण प्रबंधन प्रशिक्षण शुल्‍क प्रतिपूर्ति स्‍कीम 2024 | Top 50 NIRF Rated Management Institution’s Short Term Training Program Fee Reimbursement Scheme in hindi

शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ रैंकित प्रबंधन संस्थानों के अल्पकालिक क्षमता निर्माण प्रबंधन प्रशिक्षण शुल्‍क प्रतिपूर्ति स्‍कीम 2024 ( Top 50 NIRF Rated Management Institution’s Short Term Training Program Fee Reimbursement Scheme in hindi ) : उद्यमियों के लिए कौशल वृद्धि का मंच

Table of Contents

क्षमता निर्माण प्रबंधन प्रशिक्षण शुल्‍क प्रतिपूर्ति स्‍कीम 2024

क्या आप एक अनुसूचित जाति (एससी) या अनुसूचित जनजाति (एसटी) समुदाय के उद्यमी हैं जो अपने व्यवसाय को अगले स्तर पर ले जाने के लिए अपनी क्षमताओं का निर्माण करना चाहते हैं? यदि हाँ, तो शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ रैंकित प्रबंधन संस्थानों के अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुल्क प्रतिपूर्ति योजना (टीएसटीपीएफआरएस) आपके लिए एक शानदार अवसर है!

क्षमता निर्माण प्रबंधन प्रशिक्षण शुल्‍क प्रतिपूर्ति योजना परिचय

आज के प्रतिस्पर्धी बाजार में, व्यवसाय को सफलतापूर्वक चलाना और बढ़ाना कोई आसान काम नहीं है। अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) समुदाय के उद्यमियों के लिए यह चुनौती और भी जटिल हो सकती है। हालांकि, शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ रैंकित प्रबंधन संस्थानों के अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुल्क प्रतिपूर्ति योजना (टीएसटीपीएफआरएस) एससी और एसटी उद्यमियों को अपने व्यवसायिक कौशल को विकसित करने और उन्हें अगले स्तर पर ले जाने में सहायता करने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है।

Top 50 NIRF Rated Management Institution’s Short Term Training Program Fee Reimbursement Scheme

योजना का नामक्षमता निर्माण प्रबंधन प्रशिक्षण शुल्‍क प्रतिपूर्ति स्‍कीम
विभागराष्ट्रीय एससीएसटी हब, एमएसएमई मंत्रालय, भारत सरकार।
योजना का उद्देश्य
अनुसूचित जाति/जनजाति उद्यमी और उनके आश्रितों को शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ संस्थानों के 1-30 दिवसीय प्रबंधन कार्यक्रमों में शुल्क प्रतिपूर्ति। एक वर्ष में अधिकतम 2 कार्यक्रम, राशि ₹1,00,000/- या 90% वास्तविक प्रशिक्षण शुल्क (जो कम हो)।
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन / ऑफलाइन (हो सकता है)
आधिकारिक वेबसाइटwww.scsthub.in
हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ेंClick here
हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ेंClick here
Top 50 NIRF Rated Management Institution's Short Term Training Program Fee Reimbursement Scheme in hindi
क्षमता निर्माण प्रबंधन प्रशिक्षण शुल्‍क प्रतिपूर्ति योजना परिचय

योजना का उद्देश्य:

टीएसटीपीएफआरएस का मुख्य उद्देश्य एससी और एसटी उद्यमियों को राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त प्रबंधन संस्थानों में अल्पकालिक (1-30 दिन) प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। ये संस्थान भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ़) के तहत शीर्ष 50 में स्थान पाते हैं, जो उनकी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और प्रशिक्षण का प्रमाण है।

** योजना कैसे लाभदायक है?**

  • कौशल विकास: टीएसटीपीएफआरएस उद्यमियों को प्रबंधन के विभिन्न पहलुओं में अत्याधुनिक ज्ञान और कौशल हासिल करने का अवसर प्रदान करती है। यह वित्तीय प्रबंधन, विपणन प्रबंधन, मानव संसाधन प्रबंधन, उद्यमिता विकास, डिजिटल मार्केटिंग, और परिचालन प्रबंधन जैसे क्षेत्रों में प्रशिक्षण कार्यक्रमों को कवर करती है। इन कौशलों को सीखकर, उद्यमी अपने व्यवसाय के संचालन को बेहतर बना सकते हैं, निर्णय लेने की प्रक्रिया को मजबूत कर सकते हैं, और लाभप्रदता बढ़ा सकते हैं।
  • प्रतिपूर्ति योजना: टीएसटीपीएफआरएस के तहत, सरकार प्रशिक्षण शुल्क की आंशिक प्रतिपूर्ति प्रदान करती है। अधिकतम प्रतिपूर्ति राशि ₹1,00,000 या 90% वास्तविक प्रशिक्षण शुल्क (जो भी कम हो) है। यह वित्तीय सहायता उद्यमियों को प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करती है, भले ही उनकी वित्तीय स्थिति सीमित हो।
  • आत्मविश्वास बढ़ाना: इस योजना में भाग लेने से उद्यमियों को यह विश्वास मिलता है कि वे अपने व्यवसाय को न केवल चला सकते हैं बल्कि उसे सफलता की ओर भी ले जा सकते हैं। प्रख्यात संस्थानों से प्राप्त ज्ञान और कौशल उन्हें अपने व्यवसायिक निर्णयों में अधिक आत्मविश्वास रखने और बाजार की चुनौतियों का सामना करने में सक्षम बनाता है।

पात्रता मानदंड:

  • आवेदक एक एससी या एसटी समुदाय से संबंधित होना चाहिए।
  • आवेदक का भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक को कम से कम 10+2 परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • आवेदक का अपना पंजीकृत व्यवसाय होना चाहिए, जो कम से कम एक वर्ष से संचालित हो रहा हो।
  • आवेदक को एनआईआरएफ़ द्वारा शीर्ष 50 में स्थान पाने वाले प्रबंधन संस्थानों में से किसी एक में अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रवेश लेना होगा।

आवश्यक दस्तावेज:

शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ रैंकित प्रबंधन संस्थानों के अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुल्क प्रतिपूर्ति योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • भरे हुए और हस्ताक्षरित आवेदन पत्र (एनएसएसएच वेबसाइट पर ऑनलाइन भरें और फिर प्रिंट लें)।
  • आवेदक का आधार कार्ड या अन्य आईडी प्रमाण (आधार उपलब्ध नहीं होने वाले राज्यों में ही अन्य आईडी प्रमाण मान्य)।
  • जन्म तिथि प्रमाण (पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस)।
  • सामाजिक श्रेणी प्रमाण पत्र।
  • उद्यम के बैंक विवरण के लिए रद्द चेक।
  • मूल बैंक स्टेटमेंट जिसमें रद्द चेक के अनुसार उद्यमी/उद्यम के नाम के साथ पाठ्यक्रम शुल्क दिखाई दे।
  • उद्यम विवरण।
  • उद्यम रजिस्ट्रेशन की प्रति।
  • पैन कार्ड (एकल स्वामित्व फर्म के लिए – उद्यमी का पैन/अन्य श्रेणी की फर्म के लिए – उद्यम का पैन)।
  • जीएसटी नंबर।

अनुसूचित जाति/जनजाति उद्यमी के आश्रित के लिए अतिरिक्त दस्तावेज:

  • नामांकनकर्ता और नामांकित व्यक्ति के बीच संबंध स्थापित करने का प्रमाण (सरकारी दस्तावेज जिसमें नामांकित और नामांकनकर्ता का नाम हो जैसे पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, जन्म प्रमाण पत्र, चुनाव परिचय पत्र, आधार कार्ड, शैक्षणिक प्रमाण पत्र आदि)।
  • उद्यमी द्वारा आश्रित के पक्ष में विधिवत भरे और हस्ताक्षरित नामांकन फॉर्म (यह घोषित करते हुए कि आवेदक उनका पुत्र/पुत्री है)।

पाठ्यक्रम विवरण:

  • नामांकन संख्या
  • पाठ्यक्रम सफलतापूर्वक पूरा करने का प्रमाण पत्र
  • शुल्क रसीद/शुल्क जमा करने की चालान (मूल)
  • प्रतिक्रिया फॉर्म

आवेदन कैसे करें:

  • आवेदन पत्र और योजना के बारे में विस्तृत जानकारी एमएसएमई की वेबसाइट https://msme.gov.in/ से प्राप्त की जा सकती है।
  • आवेदन पत्र को सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ संलग्न करके संबंधित जिला उद्योग केंद्र (डीआईसी) या एमएसएमई विकास संस्थान (एमएसएमईडीआई) को जमा करना होगा।
  • आवेदन की अंतिम तिथि आमतौर पर 31 मार्च होती है, लेकिन आपको नवीनतम अपडेट के लिए वेबसाइट की जांच करनी चाहिए।
Top 50 NIRF Rated Management Institution’s Short Term Training Program Fee Reimbursement Scheme in hindi
Top 50 NIRF Rated Management Institution’s Short Term Training Program Fee Reimbursement Scheme in hindi

योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए:

  • एमएसएमई मंत्रालय की वेबसाइट: https://msme.gov.in/
  • एमएसएमई मंत्रालय के क्षेत्रीय कार्यालय
  • ईपीसी

शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ रैंकित प्रबंधन संस्थानों के अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुल्क प्रतिपूर्ति योजना के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

प्रश्न: यह योजना किसके लिए है?

उत्तर: यह योजना अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) समुदाय के उद्यमियों के लिए है।

प्रश्न: मुझे इस योजना के तहत क्या लाभ मिलता है?

उत्तर: इस योजना के तहत, आपको सरकार द्वारा आपके द्वारा चुने गए अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम के शुल्क की आंशिक प्रतिपूर्ति मिलती है। अधिकतम प्रतिपूर्ति राशि ₹1,00,000 या वास्तविक प्रशिक्षण शुल्क (जो भी कम हो) है।

प्रश्न: मैं इस योजना के लिए कौन से कार्यक्रम चुन सकता हूं?

उत्तर: आप प्रबंधन से संबंधित किसी भी अल्पकालिक (1-30 दिन) कार्यक्रम को चुन सकते हैं, जैसे कि वित्तीय प्रबंधन, विपणन प्रबंधन, मानव संसाधन प्रबंधन, उद्यमिता विकास, डिजिटल मार्केटिंग, और परिचालन प्रबंधन।

प्रश्न: मुझे किन संस्थानों में कार्यक्रम चुनना चाहिए?

उत्तर: आपको एनआईआरएफ़ द्वारा शीर्ष 50 में स्थान पाने वाले प्रबंधन संस्थानों में से किसी एक संस्थान में कार्यक्रम चुनना चाहिए।

प्रश्न: मैं इस योजना के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

उत्तर: आप एमएसएमई की वेबसाइट https://msme.gov.in/ से आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते हैं और उसे सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा कर सकते हैं। आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि आमतौर पर 31 मार्च होती है, लेकिन आपको नवीनतम अपडेट के लिए वेबसाइट की जांच करनी चाहिए।

प्रश्न: मैं इस योजना के बारे में अधिक जानकारी कहां से प्राप्त कर सकता हूं?

उत्तर: आप एमएसएमई की वेबसाइट https://msme.gov.in/ पर संपर्क कर सकते हैं।


निष्कर्ष

शीर्ष 50 एनआईआरएफ़ रैंकित प्रबंधन संस्थानों के अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुल्क प्रतिपूर्ति योजना (टीएसटीपीएफआरएस) अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति समुदाय के उद्यमियों के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है। यह योजना उन्हें प्रबंधन कौशल विकसित करने और अपने व्यवसायों को अगले स्तर पर ले जाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

टीएसटीपीएफआरएस उद्यमियों को प्रख्यात संस्थानों में प्रशिक्षण प्राप्त करने का अवसर देती है, जिससे उन्हें अपने ज्ञान को व्यापक बनाने, कौशल विकसित करने और व्यवसायिक निर्णय लेने में आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद मिलती है। यह योजना न केवल उद्यमियों को लाभ पहुंचाती है, बल्कि समग्र रूप से आर्थिक विकास को भी बढ़ावा देती है।

यदि आप एक एससी या एसटी उद्यमी हैं और अपने व्यवसाय को मजबूत करना चाहते हैं, तो टीएसटीपीएफआरएस आपके लिए एक शानदार अवसर है। योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने और आवेदन करने के लिए, एमएसएमई की वेबसाइट देखें या हेल्पलाइन नंबर से संपर्क करें।

Hello, my name is Tripti Singh, and I am the Author & Manager of scstyojana.com , I'm team member of K2org & I've 5 years+ of expertise and experience in Content creation and digital marketing.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment