एआईसीटीई स्वनाथ छात्रवृत्ति योजना (तकनीकी डिप्लोमा/डिग्री) 2024-25 | AICTE Swanath Scholarship Scheme (Technical Diploma/Degree) in hindi

AICTE Swanath Scholarship Scheme (Technical Diploma/Degree) : एआईसीटीई की छात्रवृत्ति योजना अनाथों, कोविड-19 पीड़ितों के बच्चों, शहीदों के बच्चों की टेक्निकल शिक्षा में सहायता करती है। जानें पात्रता, आवेदन प्रक्रिया और ₹50,000 सालाना की छात्रवृत्ति पाने का तरीका!

Table of Contents

एआईसीटीई स्वनाथ छात्रवृत्ति योजना (तकनीकी डिप्लोमा/डिग्री) 2024-25

सभी भारत तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) के छात्र विकास प्रकोष्ठ (एसटीडीसी) द्वारा एक छात्रवृत्ति योजना चलाई जाती है। यह योजना अनाथों, कोविड-19 से माता-पिता खो चुके बच्चों, शहीद हुए सैनिकों और अर्धसैनिक बलों के बच्चों की मदद के लिए बनाई गई है। इसका उद्देश्य उन्हें टेक्निकल शिक्षा प्राप्त करने में आर्थिक सहायता देना है। इससे वे अपना भविष्य बेहतर बना सकेंगे।

इस छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने के लिए आपकी पारिवारिक आय सभी स्रोतों से मिलाकर 8 लाख रूपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। साथ ही, आप किसी मान्यता प्राप्त एआईसीटीई संस्थान में फुल-टाइम डिग्री या डिप्लोमा कोर्स (पहले, दूसरे, तीसरे या चौथे वर्ष) में पढ़ रहे हों। यह ध्यान रखें कि आप पहले से ही केंद्र सरकार, राज्य सरकार या एआईसीटीई की किसी अन्य छात्रवृत्ति के लाभार्थी नहीं होने चाहिए।

हर साल अधिकतम 2000 छात्रवृत्तियां दी जाती हैं, जिनमें 1000 डिग्री और 1000 डिप्लोमा के छात्रों के लिए होती हैं। चयनित छात्रों को हर साल ₹50,000 की राशि दी जाती है। यह राशि कॉलेज फीस, कंप्यूटर, स्टेशनरी, किताबें, उपकरण, सॉफ्टवेयर आदि पर खर्च की जा सकती है। यह राशि अधिकतम 4 साल (डिग्री) या 3 साल (डिप्लोमा) तक के लिए मिलती है।

एआईसीटीई स्वनाथ छात्रवृत्ति योजना (तकनीकी डिप्लोमा/डिग्री) परिचय

छात्रवृत्ति का नामएआईसीटीई स्वनाथ छात्रवृत्ति योजना (तकनीकी डिप्लोमा/डिग्री)
छात्रवृत्ति का उद्देश्यएआईसीटीई छात्रों को आर्थिक मदद देकर टेक्निकल शिक्षा प्राप्त करने में सहायता करती है, खासकर अनाथों, कोविड-19 प्रभावितों और शहीदों के बच्चों के लिए |
पात्रता अनाथ, कोविड-19 पीड़ित अथवा शहीद के आश्रित, वार्षिक आय 8 लाख से कम, मान्यता प्राप्त संस्थान में नियमित छात्र, अन्य छात्रवृत्तिधारी नहीं।
लाभहर साल अधिकतम 2000 छात्रों को ₹50,000 सालाना मिलते हैं
आवश्यक दस्तावेजअनाथ – माता-पिता का मृत्यु प्रमाण (दोनों/कोई), संस्थान प्रमाण पत्र, अंकपत्र (10वीं/12वीं), जाति प्रमाण पत्र। कोविड-19 – माता-पिता का मृत्यु प्रमाण (कोविड-19 उल्लेखित), आय प्रमाण पत्र (< ₹8 लाख), संस्थान प्रमाण पत्र, अंकपत्र (10वीं/12वीं), जाति प्रमाण पत्र। शहीद के आश्रित – मृत्यु प्रमाण पत्र, शहादत प्रमाण पत्र, संस्थान प्रमाण पत्र, अंकपत्र (10वीं/12वीं), आय प्रमाण पत्र (< ₹8 लाख), जाति प्रमाण पत्र, अन्य |
आवेदन कैसे करें ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया
महत्वपूर्ण तिथियां Update soon
ऑफिसियल लिंकClick here
हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ेंClick here
हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ेंClick here

AICTE Swanath Scholarship Scheme (Technical Diploma/Degree) in hindi

एआईसीटीई स्वनाथ छात्रवृत्ति योजना (तकनीकी डिप्लोमा/डिग्री) 2024-25

छात्रवृत्ति के लिए पात्रता

छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने वाले को इनमें से किसी एक श्रेणी में आना चाहिए:

  • अनाथ: माता-पिता दोनों का ही देहांत हो चुका हो।
  • कोविड-19 से माता-पिता का देहांत: माता या पिता या फिर दोनों की ही मृत्यु कोविड-19 से हुई हो।
  • शहीद सैनिक/अर्धसैनिक बल के जवान का आश्रित: सेना या केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल जैसे किसी बल में कार्यरत जवान शहीद हो गए हों और छात्र उनके परिवार का आश्रित हो।

साथ ही, इन शर्तों का भी ध्यान रखना होगा:

  • परिवार की कुल आय सभी स्रोतों से मिलाकर 8,00,000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए (आवेदन के वित्तीय वर्ष के दौरान)।
  • छात्र को एआईसीटीई द्वारा मान्यता प्राप्त किसी संस्थान में फिलहाल डिग्री या डिप्लोमा कोर्स (नियमित पढ़ाई, पहला/दूसरा/तीसरा/चौथा वर्ष) में पढ़ाई कर रहा होना चाहिए।
  • छात्र केंद्र सरकार/राज्य सरकार या एआईसीटीई द्वारा दी जाने वाली किसी अन्य छात्रवृत्ति का लाभार्थी नहीं होना चाहिए।

लाभ

  • छात्रवृत्ति की संख्या: हर साल अधिकतम 2000 छात्रवृत्तियां दी जाएंगी (1000 डिग्री करने वाले छात्रों के लिए और 1000 डिप्लोमा करने वाले छात्रों के लिए)।
  • छात्रवृत्ति की राशि: हर साल पढ़ाई के लिए ₹50,000.00 दिए जाएंगे। डिग्री करने वाले नए छात्रों को अधिकतम 4 साल तक और डिप्लोमा करने वालों को अधिकतम 3 साल तक यह राशि एकमुश्त मिलेगी। इस राशि का इस्तेमाल कॉलेज फीस, कंप्यूटर खरीदने, स्टेशनरी, किताबें, उपकरण, सॉफ्टवेयर आदि के लिए किया जा सकता है।
  • ध्यान दें: छात्रावास के शुल्क, मेडिकल खर्च आदि के लिए कोई अतिरिक्त राशि नहीं दी जाएगी। अगर आप पहले से ही डिग्री के दूसरे/तीसरे/चौथे वर्ष में पढ़ रहे हैं, तो छात्रवृत्ति की अवधि क्रमशः 3/2/1 साल कम हो जाएगी। इसी तरह, डिप्लोमा के दूसरे/तीसरे वर्ष में पढ़ रहे छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की अवधि क्रमशः 2/1 साल कम हो जाएगी।

अपवाद

अगर आप पहले से ही केंद्र सरकार, राज्य सरकार या एआईसीटीई की किसी दूसरी छात्रवृत्ति का लाभ ले रहे हैं, तो आप इस छात्रवृत्ति के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं।

आवेदन प्रक्रिया

ऑनलाइन

चरण 1: वेबसाइट पर जाएं

सबसे पहले, आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। वहां आपको रजिस्ट्रेशन के दिशा-निर्देश मिलेंगे। उन्हें पूरा पढ़ लें, नीचे स्क्रॉल करें और शर्तों को स्वीकार करने के लिए “स्वीकार करें” बटन दबाएं। इसके बाद “जारी रखें” पर क्लिक करें।

चरण 2: रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरें

अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म आएगा। जिन चीजों के आगे * का निशान है, उन्हें भरना जरूरी है। फॉर्म में अपना राज्य, छात्रवृत्ति की श्रेणी, अपना नाम, योजना का प्रकार, जन्मतिथि, लिंग, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, बैंक विवरण और पहचान संबंधी जानकारी भरें। फिर “रजिस्टर करें” पर क्लिक करें। ऐसा करने पर आपकी आवेदन आईडी और पासवर्ड स्क्रीन पर दिखाई देगा। साथ ही, यह जानकारी आपके मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिए भी भेजी जाएगी।

चरण 3: लॉग इन करें

फिर से आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और “लॉग इन टू अप्लाई” पर क्लिक करें। अपनी आवेदन आईडी और पासवर्ड दर्ज करें। कैप्चा टाइप करें और “लॉग इन” पर क्लिक करें। अगली स्क्रीन पर अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मिले ओटीपी को भरें। इसके बाद आपको पासवर्ड रीसेट स्क्रीन पर ले जाया जाएगा। वहां नया पासवर्ड बनाएं और उसकी पुष्टि करें। “जमा करें” पर क्लिक करें। इसके बाद आपको “आवेदक का डैशबोर्ड” दिखाई देगा।

चरण 4: आवेदन फॉर्म जमा करें

बाएं तरफ के मेन्यू में “आवेदन फॉर्म” पर क्लिक करें। जिन चीजों के आगे * का निशान है, उन्हें भरना जरूरी है। सभी जानकारी भरें और जरूरी दस्तावेज अपलोड करें। आप चाहें तो “सेव एज ड्राफ्ट” पर क्लिक करके बाद में फॉर्म पूरा कर सकते हैं। नहीं तो, सीधे “फाइनल सबमिट” पर क्लिक करके आवेदन जमा कर दें। आवेदन पत्र सफलतापूर्वक जमा करने के बाद आपको एक आवेदन आईडी और पासवर्ड मिलेगा, जिसे भविष्य में संदर्भ के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

ध्यान दें

सभी आवेदकों को सलाह दी जाती है कि वे फॉर्म को ध्यानपूर्वक भरें, क्योंकि एक बार जमा करने के बाद इसमें कोई बदलाव नहीं किया जा सकता है। साथ ही, सिर्फ एक ही आवेदन फॉर्म भरें। कई आवेदन फॉर्म भरने से आपका आवेदन रद्द हो सकता है।

आवश्यक दस्तावेज

आवश्यक दस्तावेज

आप जिस श्रेणी में आवेदन कर रहे हैं, उसके आधार पर आपको निम्नलिखित दस्तावेज जमा करने होंगे:

अनाथ छात्र

  • माता-पिता दोनों का मृत्यु प्रमाण पत्र (अगर उपलब्ध हो)। नहीं तो, तहसीलदार / एसडीएम द्वारा जारी प्रमाण पत्र (संलग्नक – I) जमा करें।
  • संस्थान द्वारा जारी बोनाफाइड प्रमाण पत्र।
  • डिग्री लेवल के लिए 10+2 या समकक्ष और 10वीं की मार्कशीट।
  • डिप्लोमा लेवल के लिए 10वीं या समकक्ष मार्कशीट।
  • जाति प्रमाण पत्र (अगर लागू हो – अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग-गैर-पारंपरिक)

कोविड-19 से माता-पिता का देहांत

  • पिता/माता या दोनों का मृत्यु प्रमाण पत्र, जिसमें स्पष्ट रूप से लिखा हो कि मृत्यु कोविड-19 के कारण हुई थी।
  • अगर एक माता-पिता जीवित हैं, तो चालू वर्ष की आय प्रमाण पत्र जमा करें, जिसमें स्पष्ट रूप से लिखा हो कि परिवार की आय ₹8,00,000 से कम है (सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी)।
  • संस्थान द्वारा जारी बोनाफाइड प्रमाण पत्र।
  • डिग्री लेवल के लिए 10+2 या समकक्ष और 10वीं की मार्कशीट।
  • डिप्लोमा लेवल के लिए 10वीं या समकक्ष मार्कशीट।
  • जाति प्रमाण पत्र (अगर लागू हो – अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग-गैर-पारंपरिक)

शहीद सैनिक/अर्धसैनिक बल के जवान का आश्रित

  • मृत्यु प्रमाण पत्र।
  • सशस्त्र सेना/केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल द्वारा जारी शहीद प्रमाण पत्र।
  • संस्थान द्वारा जारी बोनाफाइड प्रमाण पत्र।
  • डिग्री लेवल के लिए 10+2 या समकक्ष और 10वीं की मार्कशीट।
  • डिप्लोमा लेवल के लिए 10वीं या समकक्ष मार्कशीट।
  • चालू वर्ष की आय प्रमाण पत्र, जिसमें स्पष्ट रूप से लिखा हो कि परिवार की आय ₹8,00,000 से कम है (सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी)।
  • जाति प्रमाण पत्र (अगर लागू हो – अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग-गैर-पारंपरिक)

महत्वपूर्ण तिथियां

  • छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि: Update soon
  • जानकारी में गलती सुधारने की अंतिम तिथि: Update soon
  • संस्थान द्वारा सत्यापन की अंतिम तिथि: Update soon

संपर्क सूत्र

  • सर्वभारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई)
  • नेल्सन मंडेला मार्ग, वसंत कुंज, नई दिल्ली – 110070
  • ईमेल आईडी – [email protected] |
  • फोन नंबर – (011) – 29581000

चयन प्रक्रिया

छात्रवृत्ति उन छात्रों को दी जाएगी जिन्होंने किसी भी एआईसीटीई मान्यता प्राप्त संस्थान में डिग्री/डिप्लोमा कोर्स करने के लिए क्वालीफाइंग परीक्षा (12वीं या समकक्ष) में सबसे ज्यादा अंक प्राप्त किए हैं।

अगर दो या उससे ज्यादा छात्रों के अंक बराबर हैं, तो उन्हें चुनने का तरीका ये है:

  • सबसे पहले 10वीं की परीक्षा के अंकों को देखा जाएगा। जिस छात्र के 10वीं में ज्यादा अंक होंगे, उसे ऊपर रखा जाएगा।
  • अगर 10वीं के अंक भी बराबर हैं, तो उम्र देखी जाएगी। ज्यादा उम्र वाले छात्र को वरीयता दी जाएगी।
  • आखिर में, अगर ये तरीके भी काम नहीं आए, तो जिस छात्र के परिवार की सालाना आय कम है, उसे छात्रवृत्ति दी जाएगी।

छात्रवृत्ति के नियम और शर्तें

छात्रवृत्ति के कुछ नियम और शर्तें:

  • अगर आप अगली कक्षा/वर्ष में पास नहीं होते हैं, तो छात्रवृत्ति रद्द हो जाएगी।
  • अगले साल की पढ़ाई के लिए छात्रवृत्ति पाने के लिए आपको नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन रिन्यूअल करना होगा। इसके लिए आपको संस्थान के प्रमुख से एक पत्र और पास होने का प्रमाण पत्र/अंकसूची जमा करनी होगी।
  • डिप्लोमा कोर्स में दाखिले के लिए क्वालीफाइंग परीक्षा पास करने और दाखिले के सत्र के बीच का अंतर दो साल से ज्यादा नहीं होना चाहिए।
  • अधूरे आवेदन रद्द कर दिए जाएंगे। सिर्फ वे आवेदन स्वीकार किए जाएंगे जो ऑनलाइन जमा किए गए हैं और सत्यापन हो चुके हैं।
  • अगर आप बाद के किसी साल में फेल हो जाते हैं या पढ़ाई छोड़ देते हैं, तो आपको छात्रवृत्ति नहीं मिलेगी।
  • इस छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने के लिए आधार कार्ड नंबर जरूरी है। आधार कार्ड नंबर के बिना आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा।
  • अगर आपके मार्कशीट में CGPA (कुल ग्रेड प्वाइंट एवरेज) दिया हुआ है, तो उसे प्रतिशत में बदलने के लिए 9.5 का गुणा करें। उदाहरण के लिए, CGPA X 9.5 = प्रतिशत।
  • अगर मार्कशीट में CGPA और कुल अंक दोनों दिए गए हैं, तो प्रतिशत निकालने के लिए कुल अंकों को आधार माना जाएगा।

ध्यान दें: विस्तृत जानकारी के लिए कृपया ‘छात्रवृत्ति दिशानिर्देश’ देखें।

महत्वपूर्ण लिंक

ऑनलाइन आवेदनक्लिक करें
दिशा-निर्देशक्लिक करें

छात्रवृत्ति के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (Scholarship FAQs)

1. छात्रवृत्ति की अधिकतम अवधि क्या होगी?

उत्तर- पहली बार डिग्री में दाखिला लेने वाले छात्रों के लिए अधिकतम 4 साल की अवधि और डिप्लोमा छात्रों के लिए अधिकतम 3 साल की अवधि। हालांकि, अगर कोई छात्र वर्तमान में डिग्री स्तर पर द्वितीय/तृतीय/चतुर्थ वर्ष में अध्ययनरत है तो छात्रवृत्ति की अवधि क्रमशः घटकर 3/2/1 वर्ष हो जाएगी। इसी तरह, डिप्लोमा स्तर पर द्वितीय/तृतीय वर्ष में अध्ययनरत छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की अवधि क्रमशः घटकर 2/1 वर्ष हो जाएगी।

2. मैं डिग्री/डिप्लोमा का छात्र हूं और केंद्र/राज्य सरकार की मेरिट छात्रवृत्ति में से किसी एक का लाभार्थी हूं। क्या मैं स्वनाथ छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने के लिए पात्र हूं?

उत्तर- नहीं। जो छात्र पहले से ही किसी छात्रवृत्ति (केंद्रीय सरकार/राज्य सरकार/एआईसीटीई प्रायोजित) के प्राप्तकर्ता हैं, वे स्वनाथ छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने के लिए पात्र नहीं हैं।

3. मैं पहले वर्ष का बी.ई. छात्र हूं और साथ ही पीएमएसएस योजना का लाभार्थी हूं, जो किसी प्रमुख इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ रहा हूं और स्वनाथ छात्रवृत्ति के लिए पात्र हूं। क्या मैं स्वनाथ छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने के लिए पात्र हूं?

उत्तर- नहीं, आप पात्र नहीं हैं, क्योंकि आप पहले से ही भारत सरकार की छात्रवृत्ति में से किसी एक के प्राप्तकर्ता हैं।

4. श्रेणी प्रमाण पत्र अस्वीकार किए जाने के क्या कारण हैं?

उत्तर- निम्नलिखित कारण हो सकते हैं:
श्रेणी प्रमाण पत्र जिला मजिस्ट्रेट/ उपायुक्त/ एसडीएम/ तहसीलदार द्वारा जारी नहीं किया गया है।
श्रेणी प्रमाण पत्र आवेदक के नाम से जारी नहीं किया गया है।
श्रेणी प्रमाण पत्र के स्थान पर असंबंधित दस्तावेज संलग्न किया गया है।
श्रेणी प्रमाण पत्र की प्रति धुंधली है।
गलत श्रेणी प्रमाण पत्र अपलोड किया गया यानी छात्र ने आवेदन में उल्लेख किया है कि वह अनुसूचित जाति का है लेकिन ओबीसी का श्रेणी प्रमाण पत्र जमा किया है।

5. वार्षिक पारिवारिक आय प्रमाण पत्र अस्वीकार किए जाने के क्या कारण हैं?

उत्तर- निम्नलिखित कारण हो सकते हैं:
चालू वर्ष का वार्षिक पारिवारिक आय प्रमाण पत्र जमा नहीं किया गया है।
वार्षिक पारिवारिक आय प्रमाण पत्र आवेदक या उसके किसी परिवार के सदस्य के नाम से नहीं है।
सक्षम प्राधिकारी (तहसीलदार, मजिस्ट्रेट, राजस्व अधिकारी/ब्लॉक विकास अधिकारी आदि) के अलावा किसी अन्य द्वारा जारी वार्षिक पारिवारिक आय प्रमाण पत्र जमा किया गया है।
सक्षम प्राधिकारी के हस्ताक्षर/स्टांप के बिना जमा किया गया वार्षिक पारिवारिक आय प्रमाण पत्र।

6. क्या स्वनाथ छात्रवृत्ति से संबंधित प्रश्नों के लिए कोई ई-मेल (या) हेल्पलाइन नंबर है?

उत्तर- हाँ। आप किसी भी प्रश्न के लिए [email protected] और 011-29581118 पर हेल्पलाइन सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।

7. ऑनलाइन आवेदन जमा करने के लिए पोर्टल तक पहुंचने में किसी भी कठिनाई के मामले में किससे संपर्क करें?

उत्तर- आप किसी भी प्रश्न के लिए [email protected] पर हेल्पडेस्क सेवा का लाभ उठा सकते हैं।

8. क्या स्वनाथ छात्रवृत्ति के लिए आधार कार्ड अनिवार्य दस्तावेज है?

उत्तर- हां। स्वनाथ योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन जमा करने के लिए उम्मीदवार के नाम का आधार कार्ड और आधार से जुड़ा हुआ बैंक खाता अनिवार्य है।

9. छात्रवृत्ति वितरण का तरीका क्या है?

उत्तर- छात्रवृत्ति का वितरण एआईसीटीई द्वारा केवल छात्र के बैंक खाते में प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) के माध्यम से किया जाएगा। छात्र के पास अपने नाम पर सामान्य बचत खाता होना चाहिए (FRILL/minor/संयुक्त खाता स्वीकार नहीं किया जाएगा)।

निष्कर्ष

इस प्रकार, एआईसीटीई की छात्रवृत्ति योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मेधावी छात्रों, विशेषकर अनाथों, कोविड-19 से प्रभावित बच्चों और शहीदों के आश्रितों को तकनीकी शिक्षा प्राप्त करने में महत्वपूर्ण सहायता प्रदान करती है। यह योजना ₹50,000 की वार्षिक राशि के साथ उनकी शिक्षा को आर्थिक बोझ से मुक्त करा देती है। यदि आप पात्र हैं, तो इस छात्रवृत्ति का लाभ उठाएँ और अपने भविष्य को उज्जवल बनाएँ!

नोट – ऊपर दिए गए लेख में जानकारी आधिकारिक वेबसाइटों से ली गई है। हमारी टीम लगातार आपको सटीक और नवीनतम जानकारी देने के लिए प्रयासरत है। यदि आपको लगता है कि इस लेख में कोई सुधार की आवश्यकता है, तो कृपया हमें संपर्क पृष्ठ पर बताएं। आपकी प्रतिक्रिया हमारे लिए महत्वपूर्ण है और हमें अपनी जानकारी में सुधार करने में मदद करेगी। आप जानते हैं कि आजकल इंटरनेट पर बहुत सी गलत जानकारी फैलाई जाती है। इसलिए, आधिकारिक वेबसाइटों को प्राथमिकता देना महत्वपूर्ण है। एवं सटीक जानकारी के लिए ऑफिसियल वेबसाइट देखे |  धन्यवाद!

Hello, my name is Tripti Singh, and I am the Author & Manager of scstyojana.com , I'm team member of K2org & I've 5 years+ of expertise and experience in Content creation and digital marketing.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment